मनोविकास विशेष शिक्षा महाविद्यालय उज्जैन के बी.एड. के तृतीय सेमेस्टर के प्रशिक्षणार्थियों द्वारा भारतीय ज्ञानपीठ हायर सेकेण्डरी स्कूल, महानन्दा नगर उज्जैन में दिनांक 27.09.2023 को विश्व सांकेतिक भाषा एवं बधिर सप्ताह के उपलक्ष्य में सांकेतिक भाषा एवं बधिर जागरूकता कार्यक्रम का सफल आयोजन किया गया।
जागरूकता कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि श्री ज्ञानेन्द्र पुरोहित (सांकेतिक भाषा विशेषज्ञ एवं निदेशक, आनन्द सर्विस सोसायटी, इन्दौर), फादर टॉम जार्ज, (निदेशक, मनोविकास महाविद्यालय, उज्जैन), डॉ. प्रेम छाबड़ा (शैक्षणिक निदेशिका, मनोविकास महाविद्यालय, उज्जैन), श्रीमती अमृता गोडबोले (प्राचार्या, भारतीय ज्ञानपीठ हायर सेकेण्डरी स्कूल, उज्जैन) के द्वारा दीप प्रज्जवलन तथा मनोविकास महाविद्यालय के प्रशिक्षणार्थियों द्वारा सांकेतिक भाषा में प्रार्थना के साथ हुआ।
श्री ज्ञानेन्द्र पुरोहित जी द्वारा सांकेतिक भाषा के कुछ महत्वपूर्ण संकेतों के माध्यम से सांकेतिक भाषा की जानकारी वहॉ उपस्थित कक्षा 9 से 12 की लगभग 100 छात्राओं को प्रदान की गई। इसके उपरान्त जागरूकता से संबंधित ‘‘संम्प्रेषण गतिविधि’’, ‘‘डेफ क्लस्टर एलिफैन्ट खेल’’ एवं ‘‘साईन लेंग्वेज इन द बकेट’’ गतिविधियाँ प्रस्तुत की गई। जिनका मुख्य उद्देश्य दिव्यांगों को समाज की मुख्य धारा के साथ जोड़ना, समान अवसर, बधिरों एवं सांकेतिक भाषा के प्रति जन सामान्य में जागरूकता का प्रचार प्रसार करना।
भारतीय ज्ञानपीठ विद्यालय की प्रधानाध्यापिका श्रीमती अमृता गोडबोले ने अपने व्याख्यान में इस कार्यक्रम एवं मनोविकास संस्थान की सराहना करते हुए कहा कि भविष्य में इस तरह के कार्यक्रम नियमित होते रहे जिससे कि बधिर बच्चों का लगातार विकास संभव हो सके।
प्रधानाध्यापिका महोदया को मनोविकास महाविद्यालय की ओर से स्नेह स्वरूप विशेष बच्चों द्वारा निर्मित दीप डॉ. प्रेम छाबड़ा, शैक्षणिक निदेशिका द्वारा प्रदान किया गया। श्री शिवम राय (सहायक प्राध्यापक, मनोविकास महाविद्यालय) द्वारा कार्यक्रम संचालन किया गया तथा श्रीमती प्रीति सोनी (सहायक प्राध्यापिका मनोविकास महाविद्यालय) द्वारा आभार प्रदर्शन किया गया। कार्यक्रम में हेमांगी पाराशर (सहायक प्राध्यापिका मनोविकास महाविद्यालय) एव ंबी.एड विशेष शिक्षा तृतीय सेमेस्टर के सभी प्रशिक्षणार्थी उपस्थित रहे। कार्यक्रम का समापन सांकेतिक भाषा में राष्ट्रगान के द्वारा किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *