मनोविकास विशेष शिक्षा महाविद्यालय, उज्जैन द्वारा ‘‘अन्तर्राष्ट्रीय दिव्यांगजन दिवस’’ के उपलक्ष्य में ‘‘आरोही सोपान-समावेशन की ओर’’ अन्तर्गत ‘‘आर्ट एवं क्राफ्ट’’ कार्यशाला 5 दिसम्बर 2023 को आयोजित की गई।
कार्यक्रम का प्रारंभ प्रार्थना गीत एवं दीप प्रज्जवजल के साथ हुआ। क्रार्यक्रम के विशेषज्ञ डाॅ. उषा भटनागर एवं श्रीमती हेमलता गन्धे रही।
कार्यक्रम में महाविद्यालय के निदेशक फादर टाॅम जार्ज एवं शैक्षणिक निदेशिका डाॅ. प्रेम छाबड़ा छाबड़ा द्वारा विशेषज्ञों को उपर्ण भेंट कर स्वागत किया गयां।
कार्यक्रम में डाॅ. उषा भटनागर जी ने प्रशिक्षणार्थियों को पेपर बेग, लिफाफे तथा बाॅटल से उपयोगी वस्तुएँ बनाना सिखाया तथा फाइन आर्ट के विषय में अपने उद्बोधन में कहा कि एक शिक्षक के लिए आर्ट एवं क्राफ्ट का कौशल सीखना बहुत उपयोगी है क्योंकि प्राथमिक कक्षाओं में छोटे बच्चों को बहुसंवेदी अप्रोच से सिखाने के लिए विभिन्न प्रकार के शिक्षण अधिगम सामग्री बनाने की आवश्यकता होती है। अतः सभी शिक्षक-प्रशिक्षणार्थियों को ललित कलाओं को सिखना चाहिये। श्रीमती हेमलता गन्धे जी ने प्रशिक्षणार्थियों को बाॅटल आर्ट, पेपर आर्ट का प्रशिक्षण दिया। कार्यशाला लगभग 100 प्रशिक्षणार्थियो के लिए लाभप्रद रही।
कार्यक्रम का समन्वयन मंजूषा डे, सहायक प्राध्यापिका मनोविकास महाविद्यालय द्वारा किया गया। सभी का आभार प्रीति सोनी, सहायक प्राध्यापिका, मनोविकास महाविद्यालय द्वारा माना गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *